जानिये फांसी देने के पूर्व कैदी के कान में जल्लाद क्या कहता है...


          नमस्कार दोस्तो आज हम आपको ले जायेंगे एक ऐसे रहस्य की ओर जिसको आप भी जानना चाहेंगे, दोंस्तो अक्सर आपने फिल्मो मे देखा होगा या कहीं से सुना होगा की किसी अपराधी को फंासी पर चढाने के पूर्व जल्लाद कैदी के कानो मे कुछ कहता है। तो दोस्तो आज हम आपको इस रहस्य से वाकिफ कराना चाहेंगे ।  तो आइये जानते है वो रहस्य... 
             जल्लाद कैदी को कहता है - “मुझे माफ कर दो, हिन्दू भाई को राम राम, मुष्लिम को सलाम, हम क्या कर सकते है हम तो है हुकुम के गुलाम” इतना बोलकर जल्लाद फांसी का फंदा खींच देता है।

              फांसी देने वाले जल्लादो को सरकार महीने का 3000 रू देती है परन्तू कुछ विषेश स्थिति जैसे कि आतंकवादियो को फांसी देने पर इन्हें ज्यादा पैसे दिए जाते है। इंदिरा गाँधी जी की हत्यारो को फांसी देने वाले जल्लाद को 25,000 रू दिए गए थे।

           किसी कैदी को फांसी देते समय कुछ गिने चुने मुख्य लोग ही उस जगह पर उपस्थित रहते है ये मुख्य लोग है एग्जीक्यूटिव मजिस्ट्रेट, जेल अधीक्षक, चिकित्सक और जल्लाद। इन चार लोगो की फांसी देने वाले स्थान में उपस्थिति आवष्यक होती है।

            तो दोस्तो अगर यह आर्टिकल आपको पसंद आया है तो अपने दोस्तो के साथ भी षेयर करिये और हमारे फेसबूक पेज को लाइक करिये ऐसी ही चटपटी आर्टिकल्स के लिए... 

Share:

2 comments:

Like Us on Facebook

Followers

Follow by Email

Recent Posts