माउण्ट एवरेस्ट फतह करने वाली दुनिया की पहली ट्विन्स

     
           दोस्तो आज हम बात करेंगे माउण्ट एवरेस्ट फतह करने वाली दुनिया की पहली ट्विन्स के बारे में। दोस्तो माउण्ट एवरेस्ट फतह करने वाली दुनिया की पहली ट्विन्स लडकियाॅ थी।

      माउण्ट एवरेस्ट दुनिया की सबसे ऊॅंची पर्वत शिखर है। माउण्ट एवरेस्ट की ऊॅंचाई 8848 - 8850 मीटर है। यह पर्वत नेपाल में स्थित है स्थानीय लोगो में यह सागरमाथा के नाम से प्रचलित है। माउण्ट एवरेस्ट में हवा की रफ्तार 321 किलोमीटर प्रति घंटे तक पहुॅच सकती है। माउण्ट एवरेस्ट चढाई करते समय अब तक 250 से भी अधिक लोगो की जान जा चुकी है।  माउण्ट एवरेस्ट में करीब 150 मृत लोगो की खुली कब्र भी मौजूद है। वैज्ञानिक सर्वेक्षणो में यह भी माना जाता है कि यह पर्वत आज भी 4 मिलीमीटर प्रति वर्ष  की रफ्तार से लगातार वृध्दि कर रही है।

        यह पर्वत शिखर पर्वतारोहियों के लिए हमेशा  से ही आकर्षण का केन्द्र रही है। माउण्ट एवरेस्ट में 8000 मीटर की ऊॅचाई पार करते ही खतरा और भी बढ जाता है। 8000 मीटर ऊॅचाई को माउण्ट एवरेस्ट का डेथ जोन भी माना जाता है।

      ऐसी विकट परिस्थिति में 19 मई 2013 को सुबह भारतीय मुल्क की दो जुडवा बहनों ने माउण्ट एवरेस्ट फतह कर दिखाया था। ये जुडवा बहने हरियाणा की रहने वाली थी। ये जुडवा बहने थी नुंग्शी मलिक तथा ताशी  मलिक जिनकी उम्र उस वक्त 22 वर्श थी। माउण्ट एवरेस्ट फतह करने से पहले ये ट्विन्स दुनिया की अन्य पर्वत शिखरो को भी फतह कर चुकी है। दोस्तो हमें गर्व होना चाहिए कि ये दोनो लडकियाॅ भारतीय मुल्क की है। 
       
          प्राउड टू बी एन इंडियन..... 

       दोस्तो अगर यह आर्टिकल आपको पसंद आया है तो अपने दोस्तो के साथ भी शेयर करिये और हमारे फेसबूक पेज को लाइक करिये ऐसी ही चटपटी आर्टिकल्स के लिए..... 

Share:

No comments:

Post a Comment

Like Us on Facebook

Followers

Follow by Email

Blog Archive

Recent Posts